अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव-2024


शिवरात्रि हम सबका अपना मेला, जिम्मेदारी से निभाएं दायित्व – अपूर्व देवगन


देव समाज की परंपराओं का होगा संपूर्ण सम्मान, भव्य और व्यवस्थित तरीके से निकलेगी जलेब


मेले में सामाजिक मुद्दों को लेकर जन जागरूकता पर रहेगा फोकस

मंडी, 26 फरवरी। उपायुक्त अपूर्व देवगन ने अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव-2024 की तैयारियों की समीक्षा करते हुए मेले के सफल आयोजन के लिए सभी अधिकारियों से अपने दायित्वों को अच्छे से निभाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि शिवरात्रि हम सबका अपना मेला है, सब लोग जिम्मेदारी समझें और आयोजन से जुड़े दायित्वों को अच्छे से निभाएं।
उपायुक्त ने मेले में देव समाज की परंपराओं के संपूर्ण सम्मान की प्रतिबद्धता दोहराई। उन्होंने इसे लेकर अधिकारियों को समय से सभी प्रबंध करने के निर्देश दिए। उन्होंने मेले में पधारने वाले देवी देवताओं के आदर-सत्कार तथा देवलुओं के लिए ठहरने, खाने, बिजली, पेयजल एवं स्वच्छता संबंधी सारी व्यवस्था की जानकारी ली तथा जरूरी मार्गदर्शन किया।

उपायुक्त ने मेले में जलेब के भव्य और व्यवस्थित आयोजन के लिए विशेष प्रबंध करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जलेब को व्यवस्थित तरीके से निकालने के लिए जलेब के मार्ग में चिन्हित जगहों पर प्रशासन और पुलिस के अधिकारी तैनात रहेंगे। उनके पास वायरलैस वॉकी-टॉकी सेट रहेंगे ताकि उनमें आपस में बेहतर संवाद बना रहे और जलेब के क्रम में गैप न पड़े। जलेब में आकर्षक झांकियां भी शामिल रहेंगी।
बता दें, शिवरात्रि मेले की प्रथम जलेब 9 मार्च को, मध्य जलेब 12 को तथा तीसरी व अंतिम जेलब 15 मार्च को निकाली जाएगी।


सामाजिक मुद्दों पर जन जागरूकता
उपायुक्त ने कहा कि शिवरात्रि मेले में लोगों की भार आमद रहती है। ऐसे में यह सामाजिक मुद्दों को लेकर जन जागृति लाने का भी अच्छा अवसर है। इस अवसर का पूरा उपयोग करें। उन्होंने मेले में हर दिन किसी एक विशेष सामाजिक मुद्दे पर फोकस करके थीम आधारित जन जागरूकता कार्यक्रम करने को कहा। मेले के दौरान दिन में शहर में विभिन्न सामाजिक जागरूकता कार्यक्रमों के आयोजन के साथ ही सांस्कृतिक संध्याओं में भी सामाजिक मुद्दों की थीम पर कार्यक्रम रहेंगे। इस दौरान कचरा प्रबंधन, मतदाता जागरूकता, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, शहीदों के सम्मान समेत अन्य सामाजिक मुद्दों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।
मेले में स्वच्छता और खाद्य सुरक्षा पर बल
पड्डल में तैनात रहेगी खाद्य सुरक्षा परीक्षण मोबाइल वैन

अपूर्व देवगन ने मेले में स्वच्छता व्यवस्था के लिए विशेष प्रबंध करने को कहा। उन्होंने यह सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए कि प्रत्येक दुकानदार अपने स्टॉल पर गीले और सूखे कचरे के लिए अलग अलग कूड़ादान रखें। नगर निगम के अधिकारी इसकी निगरानी और चेकिंग के लिए टीमें गठित कर कार्य करें। यह भी सुनिश्चित हो कि मेले में सिंगल यूज प्लास्टिक का किसी भी प्रकार से उपयोग न हो।
उन्होंने मेले में खाद्य सुरक्षा तय बनाने के भी निर्देश दिए। प्रत्येक स्टॉल पर खाद्य पदार्थों की हाइजीन तथा गुणवत्ता सुनिश्चित करने को कहा। इसके लिए खाद्य सुरक्षा विभाग के अधिकारियों को दस्ते बनाकर चेकिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने पड्डल में खाद्य सुरक्षा परीक्षण मोबाइल वैन तैनात रखने के निर्देश भी दिए।  
डिजिटल होगी स्मारिका, कला संस्कृति के साथ सामाजिक मुद्दों पर होंगे लेख
उपायुक्त ने कहा कि मेले की बहुरंगी स्मारिका प्रकाशित की जाएगी। उन्होंने इसमें कला संस्कृति के साथ ही सामाजिक मुद्दों पर लेख रखने को कहा। उन्होंने कहा कि इसमें साहित्य तथा सामाजिक क्षेत्र के मूर्धन्य लोगों का सहयोग लें। स्मारिका का डिजिटल संस्करण तैयार करने तथा उसे जिला प्रशासन की वेबसाइट पर उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए ताकि सभी लोगों को ई-बुक के रूप में इसे पढ़ने में आसानी रहे।
पड्डल में लगेगी विकास प्रदर्शनी
उपायुक्त ने मेले के दौरान पड्डल में विभिन्न विभागों की विकास प्रदर्शनी के लिए समुचित व्यवस्था करने को कहा। उन्होंने कहा कि विकास प्रदर्शनी के माध्यम से लोग सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को पूरा जानेंगे तथा उनका लाभ लेने की प्रक्रिया की जानकारी भी प्राप्त कर सकेंगे।


यातायात और पार्किंग व्यवस्था की बनाएं योजना
मेले में जन सुविधा के लिए उपलब्ध रहेगी एचआरटीसी की शटल सेवा

  उपायुक्त ने पुलिस तथा एचआरटीसी के अधिकारियों को मेले के दौरान सुचारू यातायात तथा पार्किंग व्यवस्था के समुचित प्रबंध करने को कहा। उन्होंने निर्देश दिए कि इसे लेकर स्पष्ट योजना तैयार करें तथा उसे समय से आम लोगों से साझा करें ताकि सभी के लिए सुविधा रहे। मेले में पार्किंग स्थलों तथा संस्कृति सदन और सांस्कृतिक संध्याओं के समय सेरी मंच के लिए एचआरटीसी की राइड विद प्राइड की शटल सेवा चलाने के लिए प्लान बनाने को कहा।
बता दें, शिवरात्रि मेले की सांस्कृतिक संध्याओं का आयोजन पिछले वर्ष की भांति इस बार भी सेरी मंच पर होगा। सांस्कृतिक संध्याएं 9 से लेकर 14 मार्च तक होंगी। 5 संध्याएं रात्रि 10 बजे तक जबकि एक सांस्कृतिक संध्या रात्रि 12 बजे तक होगी।
शिवरात्रि के लिए सजेगा शहर
उपायुक्त ने मेले के लिए शहर की खास साज सज्जा तथा सुंदर सजावट तय बनाने के निर्देश दिए। मंदिरों तथा ऐतिहासिक इमारतों को सजाने को कहा। शहर में विशेष लाइटिंग होगी तथा तोरणद्वार लगाए जाएंगे।
शानदार तरीके से आयोजित हों खेल प्रतियोगिताओं
उन्होंने मेले में खेल प्रतियोगिताओं को शानदार तरीके से आयोजित कराने को कहा। इस बार पहली दफा खेल स्पर्धाओं में निशानेबाजी और साइकिल प्रतियोगिता भी शामिल की गई है। लिहाजा उन्होंने इसे लेकर समुचित इंतजाम सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। खेल प्रतियोगिताओं के क्रम में हॉकी और फुटबॉल स्पर्धाएं आरंभ हो चुकी हैं। इसके अलावा खेलां में बैडमिंटन, बॉक्सिंग, छिंज, बास्केटबाल, किक बॉक्सिंग, वॉलीबॉल, कबड्डी, रंगोली, टग ऑफ वार तथा मैराथन इत्यादि स्पर्धाएं भी होंगी।
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त रोहित राठौर, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी डॉ. मदन कुमार, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सागर चंद्र, उपमंडलाधिकारी सदर मंडी ओम कांत ठाकुर सहित विभिन्न विभागों के आला अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक में सर्व देवता समिति के अध्यक्ष शिवपाल शर्मा तथा समिति के अन्य पदाधिकारियों ने भी भाग लिया।