अब बाजार माँग के अनुसार सब्जी उत्पादन करेंगे किसान     कृषि प्रसार अधिकारियों के लिए आयोजित की गई कार्यशाला

धर्मशाला 02 फरवरी। पालमपुर में हिमाचल प्रदेश फसल विविधिकरण प्रोत्साहन परियोजना चरण- दो के अंतर्गत कृषि प्रसार अधिकारियों के लिए लघु धारक बागवानी सशक्तिकरण और संवर्धन कार्यक्रम के तहत कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें 20 अधिकारियों ने भाग लिया।कार्यशालामें डॉ रजनीश शर्मा, विषयवाद विशेषज्ञ ने लघु धारक बागवानी सशक्तिकरण और संवर्धन कार्यक्रम के बारे में विस्तृत जानकारी दी। लघु धारक बागवानी सशक्तिकरण और संवर्धन कार्यक्रम के तहत लघु एवं सीमांत किसान बाजार की माँग के अनुसार फसलों का चयन कर सकते है और अपने उत्पाद कर सही मूल्य प्राप्त कर सकते हैं। अधिकारियों को इस कार्यक्रम के उपरांत


     कृषक स्तर पर जागरूकता शिविर, आधारभूत सर्वेक्षण और बाजार सर्वेक्षण कर कार्य योजना बनाने हेतु जानकारी दी गई। डॉ राजेश कुमार, जिला परियोजना प्रबंधक ने बताया की लघु धारक बागवानी सशक्तिकरण और संवर्धन दृष्टिकोण हिमाचल प्रदेश फसल विविधिकरण प्रोत्साहन परियोजना के अंतर्गत प्रायोगिक आधार के ऊपर शुरु की जा रही है और प्रशिक्षण उपरांत प्रसार अधिकारी इसे धरातल पर उतरेंगे। इस कार्यक्रम मंै डॉ सुनील दत्त शर्मा, खण्ड परियोजना प्रबंधक, जवाली डॉ नंदिनी कपूर, खण्ड परियोजना प्रबंधक, धर्मशाला, एवं डॉ अमित भूषण, खण्ड परियोजना प्रबंधक ,पालमपुर ने भी भाग लिया।