आपदा प्रबंधन की बुनियादी अवधारणाओं पर अधिकारियों का प्रशिक्षण

धर्मशाला, 1 दिसम्बर। जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने आज शुक्रवार को मिनी सचिवालय धर्मशाला में विभिन्न विभागों के अधिकारियों के लिए एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया। आपदा प्रबंधन की बुनियादी अवधारणाओं पर आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी रोहित राठौर ने अधिकारियों को आपदा प्रबंधन से जुड़ी बारीकियों से अवगत करवाया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में लोक निर्माण विभाग, जल शक्ति विभाग, बिजली, कृषि और बागवानी सहित विभिन्न विभागों के उपमंडल अधिकारियों और इंजीनियरों ने आपदा प्रबंधन की बुनियादी अवधारणाओं पर प्रशिक्षण प्राप्त किया।


अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने धर्मशाला में भाग लेने वाले अधिकारियों और इंजीनियरों से आपदा प्रबंधन की बुनियादी अवधारणाओं पर अपने ज्ञान को बढ़ाने के लिए इस प्रशिक्षण कार्यशाला का अच्छा उपयोग करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि इससे उन्हें बेहतर आपदा शमन वित्तपोषण के लिए परियोजना प्रस्ताव तैयार करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि इससे भविष्य में होने वाले बुनियादी ढांचे के नुकसान को कम करने और मानव सुरक्षा से जुड़े पहलूओं को समझने में सहायता मिलेगी।


इस दौरान रिसोर्स पर्सन नवनीत यादव ने आपदाओं से संबंधित नियमों और शब्दावली पर प्रकाश डाला। उन्होंने प्रतिभागियों को जलवायु परिवर्तन और ढांचागत विकास के मुद्दों पर विस्तार से बताया। वहीं डीडीएमए कांगड़ा के प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण समन्वयक भानु शर्मा और आईटी समन्वयक रॉबिन शर्मा ने विभिन्न विभागों द्वारा आपदा न्यूनीकरण के लिए तैयार किए जाने वाले प्रस्तावों से संबंधित शंकाओं को दूर किया।