आपदा प्रभावितों के पुनर्वास पर सुख की सरकार का विशेष फोक्स: बाली

आपदा प्रभावितों के पुनर्वास पर सुख की सरकार का विशेष फोक्स: बाली

आपदा प्रभावितों के पुनर्वास पर सुख की सरकार का विशेष फोक्स: बाली क्षतिग्रस्त अधोसंरचना की बहाली को धन की कमी नहीं आने दी जाएगी आड़े नगरोटा बगबां की आपदा प्रभावित क्षेत्रों में नुक्सान-पुनर्वास का लिया जायजा घीण में सामुदायिक भवन तथा आंगनबाड़ी का भवन बनाने की घोषणा धर्मशाला, नगरोटा, 11 सितंबर। हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष व पर्यटन विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष (कैबिनेट रैंक) आर.एस. बाली ने कहा कि राज्य सरकार आपदा प्रभावितों के पुनर्वास को विशेष प्राथमिकता दे रही है ताकि प्रभावित लोगों को जीवन यापन में किसी भी तरह की असुविधा नहीं हो। उन्होंने कहा कि भारी बारिश के कारण क्षतिग्रस्त हुई अधोसंरचना की बहाली के लिए राज्य के सभी उपायुक्तों और संबंधित विभागों आवश्यक धनराशि उपलब्ध करवाई गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में मरम्मत एवं रखरखाव कार्यों तथा प्रभावितों को राहत पहुंचाने के लिए धन की कोई कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार जान-माल की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रही है।

सोमवार को पर्यटन निगम के अध्यक्ष आरएस बाली ने नगरोटा विधानसभा की आपदा प्रभावित पंचायतों बालू ग्लोआ, गांव खप्परनाला, पंचायत घीन, मोरठ जसाई,रतियाड़, भटेहड़ बूसल, बड़ोह, सरोत्री, चंदरोट थाना बड़ागांव में पुनर्वास कार्यों का जायजा लिया तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। इस दौरान उन्होंने क्षतिग्रस्त ग्रामीण रास्तों, पेयजल परियोजनाओं की मरम्मत करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि भारी बारिश के कारण घर क्षतिग्रस्त होने से जो लोग राहत शिविरों में रह रहे हैं, उन्हें प्रदेश सरकार ने किराए पर आवासीय सुविधा उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया है। मकान का किराया प्रदेश सरकार अदा करेगी। इसके दृष्टिगत दो व तीन कमरों के सेट किराए पर लेने का प्रावधान किया जाएगा। इस संबंध में सभी उपायुक्तों को सरकार की ओर से निर्देश जारी कर दिए गए हैं।घीण में सामुदायिक भवन तथा आंगनबाड़ी का भवन बनाने की घोषणापर्यटन निगम के अध्यक्ष आरएस बाली ने घीण पंचायत के ग्रामीणों की मांगों को पूरा करते हुए सामुदायिक भवन बनाने के लिए 5 लाख रुपए और एक आंगनबाड़ी केंद्र बनाने के लिए 2 लाख की राशि देने की घोषणा की है। उन्होंने स्कूल में शौचालय निर्मित करने के निर्देश भी स्कूल प्रबंधन को दिए। गांव छिद्र में रेन शेल्टर बनाने और उसके साथ ही पेयजल के लिए टंकी बनाने के अधिकारियों को निर्देश दिए। रतियाड़ में विद्युत व्यवस्था तथा बड़ोह में पेयजल व्यवस्था को बेहतर बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिए गए। उन्होंने लूना निवासी कालीचरण को 50 हजार और कन्याकुमारी को 30 हजार की राशि उपचार के लिए प्रदान की। आरएस बाली ने घीण में हेल्थ वेलनेस सेंटर का निरीक्षण भी किया।इस अवसर पर एसडीएम मुनीष शर्मा, तहसीलदार बड़ोह शिखा, बीडीओ बड़ोह पूजा, अधिशासी अभियंता आईपीएच नितिन, एसडीओ विद्युत विभाग विशाल पत्रवाल, अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी सुरेश वालिया, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष मानसिंह, प्रधान बालू ग्लोआ कमलेश कुमारी, पंचायत प्रधान घीन राजेश राणा (लड्डू), प्रधान मोरठ जसाई राजकुमार, उप प्रधान हेमराज, रेतियाड़ प्रधान सुनीता कुमारी, प्रधान पंचायत बटेहड़ बूसल सोनू देवी उपस्थित थे।