कूहल सूखने से लोगों को नहीं मिल रहा पानी

जोगिंद्रनगर जतिन लटावा

उपमंडल जोगिंद्रनगर में बारिश के संकट के बाद
जलशक्ति विभाग की लापरवाही से सिंचाई कूहलों में पानी न होने से किसानों-बागवानों की मुसीबतें बढ़ गई हैं। ढेलू पंचायत के योरा गांव में दो किलोमीटर लंबी कूहल में पानी न होने से 100 से अधिक किसानों की गेहूं फसलें तबाह होने लगी है। पशु चारा
भी खेतों में नष्ट होने लगा है। जानकारी के अनुसार योरा गांव के लिए कूहल के निर्माण के लिए लगभग
10 लाख रुपये खर्च किए थे। मगर इसके रखरखाव में बरती गई लापरवाही से यह सूख चुकी है और
कूहल अब मलबे से भर गई है। योरा गांव के प्रगतिशील किसान भूप सिंह और युद्धजीत ने बताया कि कई माह से कूहल का रखरखाव न होने से
इसमें पानी की आपूर्ति नहीं हो पा रही। इससे उनकी गेहूं की फसल तबाह होने