डीएवी पब्लिक स्कूल जोगिंदर नगर में शिक्षक दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।

डीएवी पब्लिक स्कूल जोगिंदर नगर में शिक्षक दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया

डीएवी पब्लिक स्कूल जोगिंदर नगर में शिक्षक दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। प्राचार्य श्री संजय ठाकुर ने कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर एवम् डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के चित्र के समक्ष पुष्प अर्पित किया। दसवीं की छात्रा बबिता व कक्षा- आठवीं की श्रीनिका ने शिक्षक दिवस के अवसर पर अपने विचार प्रस्तुत किये।इस अवसर पर कक्षा- छठी के आदित्य, आरव और अभिमन्यु ने बहुत ही सुंदर गाना प्रस्तुत किया। सान्वी, आकृति, रितिका, कृतिका, अनाहिका ने बहुत ही सुंदर नृत्य प्रस्तुत किया। साथ ही कक्षा- छठी और कक्षा- आठवीं की लड़कियों ने भी बहुत ही सुंदर नृत्य प्रस्तुत किया।

इस अवसर पर शिक्षकों के लिए म्यूजिकल चेयर गेम का आयोजन किया गया, जिसमें श्री नवदीप ने प्रथम और श्री बलदेव ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया।प्राचार्य ने विद्यार्थियों को शिक्षक दिवस की बधाई देते हुए उन्हें डा. राधाकृष्णन के जीवन के महत्वपूर्ण पहलुओं बारे अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में शिक्षक को भगवान के समान माना जाता है। वहीं शिक्षक दिवस गुरु और शिष्य के बीच बने संबंध को जीने का और गुरु के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करने का त्योहार है। हमें शिक्षक दिवस के दिन ही नहीं अपितु जीवनभर अपने शिक्षकों का सम्मान करना चाहिए।उन्होंने कहा कि बदलते दौर में शिक्षक और विद्यार्थियों के रिश्तों में बदलाव आ रहा है। हमें जरूरत है कि शिक्षक और विद्यार्थियों के रिश्तों को मधुर बनाएं तथा शिक्षकों को सम्मान देने के लिए विद्यार्थियों द्वारा जो पहल की गई है वो सराहनीय है। उन्होंने कहा कि डा. राधाकृष्णन की लोकप्रियता के कारण उन्हें देशरत्न भी कहकर पुकारा जाता था। उन्होंने सभी स्टाफ सदस्यों से आह्वान किया कि हमें उनके द्वारा दिखाए गए मार्ग पर चलकर एक आदर्श शिक्षक बनना चाहिए। उन्होंने बच्चों को संदेश देते हुए कहा कि हमें अपने शिक्षकों का सम्मान करते हुए उनकी हर बात का पालन करना चाहिए क्योंकि बच्चों के भविष्य को उज्ज्वल बनाने में तथा उनका मार्गदर्शन करने में वे सदा तत्पर रहते हैं।