मंडी के दूरदराज क्षेत्रों में वायु सेना के हेलीकॉप्टर से पहुंचाई गई राशन-दवाइयों की खेप

मंडी के दूरदराज क्षेत्रों में वायु सेना के हेलीकॉप्टर से पहुंचाई गई राशन-दवाइयों की खेप

मंडी के दूरदराज क्षेत्रों में वायु सेना के हेलीकॉप्टर से पहुंचाई गई राशन-दवाइयों की खेप लोगों ने सीएम का जताया आभारमंडी 24 अगस्त। मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू के निर्देशों के अनुरूप मंडी जिला प्रशासन ने बृहस्पतिवार को वायु सेना के हेलीकॉप्टर की मदद से मंडी जिले के दूरदराज क्षेत्रों में राशन समेत अन्य आवश्यक सामग्री और दवाइयों की खेप पहुंचाई। जिले के बालीचौकी उपमंडल के आपदा प्रभावित क्षेत्रों में यह सामग्री पहुंचाई गई।जिलाधीश अरिंदम चौधरी ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने आपदा प्रभावित क्षेत्रों में हर कीमत पर तत्परता से लोगों को मदद पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। बता दें, 22 और 23 को हुई भीषण बारिश, फ्लैश फ्लड और भूस्खलन के कारण के बालीचौकी उपमंडल के दूरदराज क्षेत्रों में भारी तबाही हुई थी। वहां रास्ते ध्वस्त होने के कारण आवागमन में दिक्कत आई है। ऐसे में वहां हेलीकॉप्टर के माध्यम से राशन और अन्य आवश्यक सामग्री भेजने की व्यवस्था की गई।उन्होंने बताया कि बालीचौकी क्षेत्र के लिए आज हेलीकॉप्टर की 3 उड़ाने निर्धारित थीं, इनमें कशौड़ीधार और कारथाच में सामग्री भेजी जानी थी। मंडी के कांगनीधार से सामग्री से भरे हेलीकॉप्टर ने कशौड़ीधार के लिए उड़ान भरी लेकिन वहां मौसम प्रतिकूल होने के कारण सामग्री की पहली खेप कारथाच में उतारी गई। यह सामग्री साथ लगते गांवों में वितरित की जाएगी। मौसम अनुकूल रहने पर हेलीकॉप्टर अगली उड़ान कल भरेगा।उन्होंने बताया कि पहली खेप में खाद्य सामग्री की 15-15 किलो की 55 किट, दवाइयों के 3 बड़े बक्सों के अलावा तिरपाल, कंबल समेत अन्य जरूरी सामग्री पहुंचाई गई है। खाद्य सामग्री की प्रत्येक किट में आटा, चावल, 2 दालें, तेल, नमक, हल्दी तथा अन्य किचन मसाले हैं।लोगों ने सीएम का जताया आभारवहीं, हेलकॉप्टर से मदद भेजने के लिए कारथाच के लोगों ने सीएम का आभार जताया है। उन्होंने मुश्किल की घड़ी में पूरी मजबूती से साथ खड़े रहने और हर तरह से सहायता प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू की संवेदनशीलता और लोक हितकारी शासन व्यवस्था की तारीफ की।राहत शिविरों में की गई है भोजन व ठहरने की उत्तम व्यवस्थाजिलाधीश ने बताया कि मुख्यमंत्री के दिशानिर्देशानुसार जिले में आपदा प्रभावित लोगों को जिला प्रशासन द्वारा हरसंभव सहायता प्रदान की जा रही है। भारी बारिश के कारण प्रभावित परिवारों को विभिन्न राहत शिविरों में ठहराया गया है, जहां उन्हें निःशुल्क भोजन व ठहरने की उत्तम व्यवस्था की गई है।उन्होंने बताया कि जिले के 11 उपमंडल में स्थापित किए गए है, इन राहत शिविरों में 2039 प्रभावित लोग हैं। उन्होंने बताया कि सदर उपमंडल में 640, सुन्दरनगर में 97, गोहर में 140, पधर में 55, सरकाघाट में 368, बल्ह में 311, धर्मपुर में 65, बालीचौकी में 10, कोटली में 20, करसोग में 28 तथा जोगिन्दर नगर में 95 लोगों को राहत शिविर में ठहराया गया है।