यातायात नियमों की अनुपालना अत्यंत जरूरी: चढ्ढा      धर्मशाला बस स्टैंड पर सड़क जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

धर्मशाला, 07 फरवरी। सड़क सुरक्षा जागरूकता अभियान के तहत क्षेत्रीय प्रबंधक एचआरटीसी धर्मशाला बस स्टैंड में एक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में मंडलीय प्रबंधक एचआरटीसी धर्मशाला मंडल पंकज चड्ढा बतौर मुख्यातिथि शामिल हुए। इसके अतिरिक्त एचआरटीसी अपनी स्थापना का 50वां वर्ष भी मना रहा है जिसके तहत भी कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस दौरान बेहतरीन सेवाएं प्रदान करने वाले एचआरटीसी धर्मशाला के चालकों, परिचालकों, मैकेनिकों सहित अन्य स्टाफ को भी प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया।
इस मौके पर मंडलीय प्रबंधक एचआरटीसी धर्मशाला मंडल पंकज चड्ढ़ा ने कहा कि यातायात नियमों की अनुपालना अत्यंत जरूरी है। यातायात नियमों की अनुपालना स्वयं को ही नहीं बल्कि दूसरों की भी अनमोल जीवन को बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। उन्होंने सभी प्रकार के वाहन चालकों से सड़क सुरक्षा नियमों की कड़ाई से अनुपालना करते हुए अनमोल जिंदगियों को बचाने का आहवान किया।


उन्होंने बताया कि देश में 11 प्रतिशत मृत्यु का कारण सड़क दुर्घटनाएं बनती हैं, जिसमें लगभग 99 फीसदी सड़क दुर्घटनाओं का कारण मानवीय चूक होना पाया गया है। इसके अतिरिक्त 65 प्रतिशत सडक दुर्घटनाओं का कारण ओवर स्पीड जबकि वाहन चलाते समय मोबाईल फोन का इस्तेमाल तथा नशा कर गाड़ी चलाना भी प्रमुख कारण रहता है। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं के कारण कई परिवार तबाह हो गए हैं तथा पीड़ित परिवारों को कई तरह की समस्याओं से जूझना पड़ता है। उन्होंने एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते सभी वाहन चालकों से यातायात नियमों की कड़ाई से अनुपालना करते हुए वाहन चलाने का आह्वान किया है।


   पंकज चड्ढा ने कहा कि एचआरटीसी अपनी स्थापना का 50वां वर्ष भी मना रहा है जो प्रत्येक हिमाचल वासी के लिए गौरवशाली क्षण है। उन्होंने कहा कि 50 साल बाद भी एचआरटीसी के प्रति प्रदेश वासियों ने विश्वास को जगाए रखा है। उन्होंने कहा कि आज एचआरटीसी के प्रति लोगों का जो भावनात्मक रिश्ता कायम हुआ है ये एचआरटीसी से जुड़े प्रत्येक कर्मचारी के

लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से एचआरटीसी के ड्राईवरों की पूरे देश भर में एक अलग पहचान है जिन पर एचआरटीसी गर्व महसूस करता है।
इससे पहले मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए क्षेत्रीय प्रबंधक एचआरटीसी साहिल कुमार ने बताया कि क्षेत्रीय प्रबंधक कार्यालय के माध्यम से एचआरटीसी बस सेवा के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की। कार्यक्रम में एचआरटीसी के परिचालाकों ने लोक गीत संगीत के माध्यम से लोगों को जागरूक किया। इस अवसर पर एचआरटीसी धर्मशाला के चालकों, परिचालकों एवं अन्य स्टाफ सहित कई गण्यमान्य लोग मौजूद रहे।