सभी विद्यालयों का बनेगा आपदा प्रबंधन प्लान, मोबाइल ऐप पर होगा अपलोडडीडीएमए की ओर से एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित

धर्मशाला, 30 दिसंबर। कांगड़ा जिला के सभी स्कूलों का आपदा प्रबंधन प्लान तैयार किया जाएगा ताकि इसे स्कूल सेफ्टी मोबाइल ऐप पर अपलोड किया जा सके। इस बाबत शनिवार को जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की ओर से धर्मशाला में मिनी सचिवालय के सभागार में खंड प्रारभिक शिक्षा अधिकारियों तथा विद्यालयों के नोडल अधिकारियों के लिए एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला भी आयोजित की गई। कार्यशाला का शुभारंभ करते हुए एडीएम रोहित राठौर ने कहा कि राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने एक व्यापक स्कूल आपदा प्रबंधन योजना तैयार करने में स्कूलों की सहायता के लिए एक मोबाइल एप्लिकेशन तैयार की है इस ऐप के माध्यम से स्कूल आपदा प्रबंधन की योजना बना सकेंगे और उसी के अनुरूप मॉकड्रिल का आयोजन कर सकेंगे, जिसकी निगरानी उच्च स्तर पर भी आसानी से की जा सकेगी।
उन्होंने कहा कि आपदा की दृष्टि से विद्यालय अति संवेदनशील जगह होती है जहां पर एक साथ सैकड़ों बच्चे शिक्षा ग्रहण करते हैं इसलिए विद्यालयों का आपदा प्रबंधन प्लान तैयार करना अत्यंत जरूरी है इसी के दृष्टिगत आपदा को लेकर विद्यार्थियों को भी जागरूक किया जाएगा ताकि विद्यार्थियों के माध्यम से समाज में भी आपदा प्रबंधन को लेकर लोगों तक जानकारी पहुंचाई जा सकेगी। उन्होंने कहा कि आपदा प्रबंधन प्लान को एक माह के भीतर मोबाइल ऐप पर अपलोड करने के निर्देश दिए गए हैं।
इससे पहले मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के समन्वयक भानु शर्मा ने कार्यशाला को लेकर विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि शिक्षा विभाग के नोडल अधिकारियों को आपदा प्रबंधन प्लान तैयार करने तथा उसे स्कूल सेफ्टी मोबाइल ऐप पर अपलोड करने का एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया है। नोडल अधिकारी स्कूलों में अन्य प्राधिकृत शिक्षकों को प्रशिक्षण प्रदान करेंगे ताकि सभी स्कूलों का आपदा प्रबंधन प्लान तैयार किया जा सके। इसके साथ बच्चों को भी स्कूल सेफ्टी ऐप के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी।