समाज सेवा और सुशासन ही सरकार की प्राथमिकता: बालीबोले, सभी वायदों को चरणबद्व तरीके से किया जाएगा पूरा

स्व हरि राम चैधरी पार्क के विस्तारीकरण पर 5 करोड़ खर्च करने की घोषणा
मटौर में सरकार गांव के द्वार कार्यक्रम में सुनीं जनसमस्याएं
धर्मशाला 10 फरवरी। पर्यटन निगम के अध्यक्ष कैबिनेट रैंक आरएस बाली ने कहा कि समाज सेवा तथा सुशासन ही सरकार की प्राथमिकता है तथा लोगों से किए गए सभी वायदों को चरणबद्व तरीके से पूर्ण किया जाएगा। शनिवार को कांगड़ा विधानसभा क्षेत्र के मटौर में आयोजित सरकार गांव के द्वार कार्यक्रम में पर्यटन निगम के अध्यक्ष आरएस बाली ने कहा कि कहा कि प्रदेश सरकार ने सत्ता में आते ही प्रदेश के कर्मचारियों के लिए ओल्ड पेंशन स्कीम लागु की। आपदा से निपटने के लिए 4500 करोड़ का आपदा पैकेज जारी किया। अनाथ बच्चों केे लिए सुख-आश्रय योजना शुरू कर 4000 अनाथ बच्चों को चिल्ड्रन ऑफ द स्टेट के रूप में अपनाया। बेरोजगार युवाओं के लिए 680 करोड़ रुपये से राजीव गांधी स्वरोजगार स्टार्ट-अप योजना शुरू की। गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने के लिए हर विधानसभा क्षेत्र राजीव गांधी गवर्नमेंट मॉडल डे-बोर्डिंग स्कूल खोलने का निर्णय लिया। पहले चरण में प्रदेश में 18 स्कूल स्थापित किए जा रहे हैं। साथ ही सरकार ने प्रदेश के सभी सरकारी स्कूलों में इंग्लिश मीडियम आरम्भ करने का निर्णय लिया है। व्यवसायिक शिक्षा के लिए एक प्रतिशत ब्याज दर पर 20 लाख रुपये तक ऋण देने का निर्णय लिया। पुलिस भर्ती में 30 प्रतिशत पद महिलाओं के लिए आरक्षित किए। विधवा पुर्नविवाह के लिए राशि 2 लाख रुपये की गई। उन्होंने बताया कि हर विधानसभा में एक आदर्श स्वास्थ्य संस्थान स्थापित होगा , जिसमें सारी उन्नत सुविधाएं उपलब्ध होंगी। इसके लिए शुरूआती तौर पर प्रदेश के 36 संस्थानों का चयन कर लिया गया है जहां पर 6-6 विशेषज्ञ चिकित्सों की नियुक्ति कर दी गई है। वहां व्यवस्थाओं को बड़े पैमाने पर सुधारा गया है। उन्होंने कहा कि मटौर में स्व हरि राम चैधरी के पार्क के विस्तारीकरण तथा सौंदर्यीकरण पर पर्यटन विभाग की तरफ से पांच करोड़ की राशि व्यय की जाएगी ताकि लोगों तथा बच्चों को बेहतर सुविधा मिल सके।


सरकार गांव के द्वार कार्यक्रम में सुनीं 192 के जन शिकायतें
मटौर में आयोजित हुए सरकार गांव के द्वार कार्यक्रम में पर्यटन निगम के अध्यक्ष ने 192 से अधिक समस्याओं का सुना तथा उसमें अधिकांश समस्याओं का मौके पर ही निपटारा किया गया जबकि अन्य शिकायतों के त्वरित निदान के लिए संबंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए गए। उन्होंने अधिकारियों को जमीनी स्तर पर काम करने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने लोगों द्वारा रखी विभिन्न मांगों पर संबंधित विभागों को यथाशीघ्र विस्तृत रिपोर्ट बनाकर सौंपने को कहा। कार्यक्रम में मुख्यतः रास्ते, पानी, सड़क, महिला मंडलों से संबंधित शिकायतों की सुनवाई की गई।
मेधावी बच्चों को टैब्स किए वितरित, बेटियों को चेक भी दिए
पर्यटन निगम के अध्यक्ष आरएस बाली ने विभिन्न स्कूलों के 65 मेधावी बच्चों को टैबस वितरित किए तथा बेटी है अनमोल योजना के तहत 14 बेटियों को 21-21 हजार के चेक भी वितरित किए। इस अवसर पर आरएस बाली ने कहा कि विद्यार्थियों के सर्वोंगीण विकास तथा बेटियों के सशक्तिकरण की दिशा में सरकार अनेकों कार्यक्रम संचालित कर रही है।
निशुल्क स्वास्थ्य शिविर में 230 लोगों ने करवाया चेकअप
सरकार गांव के द्वार कार्यक्रम में निशुल्क स्वास्थ्य शिविर भी आयोजित किया गया जिसमें 230 से अधिक लोगों ने इस शिविर का लाभ उठाया। इस शिविर में लोगों के ब्लड टेस्ट भी किए गए तथा निशुल्क दवाइयां भी वितरित कीं। सरकार गांव के द्वार कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा सुशील शर्मा ने लोगों को नशे से दूर रहने तथा स्वास्थ्य को लेकर भी विस्तार से जानकारी प्रदान की।
इस अवसर पर उपायुक्त कांगड़ा हेमराज बैरबा, एसडीएम इशांत जस्वाल, पूर्व विधायक सुरेंद्र काकू, प्रदेश प्रवक्ता अशोक हिमाचली, ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नागेश्वर मनकोटिया, महासचिव अनिल वर्मा, जिला कांगड़ा महिला विंग की अध्यक्ष रीता मनकोटिया, पूर्व जिला अध्यक्ष सुमन वर्मा सहित विभिन्न गणमान्य लोग उपस्थित थे।