सुधीर शर्मा ने 4 योजनाओं के 99 लाभार्थियों को बांटे 31 लाख, धर्मशाला लायंस क्लब में हुआ कार्यक्रम

कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव व धर्मशाला से विधायक सुधीर  शर्मा बोले, समय पर योजनाओं का लाभ दिलाकर पूरा किया वादा

हिमाचल में 3 विधायक कार्यालय खोलने वाले एकमात्र विधायक सुधीर बोले, मेरे लिए जनता ही जनार्दन

5 फरवरी- धर्मशाला। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव व धर्मशाला से विधायक सुधीर  शर्मा ने सोमवार को चार योजनाओं के 99 लाभार्थियों को 31 लाख रुपए से ज्यादा की राशि वितरित की। धर्मशाला के लायंस क्लब में बाल विकास परियोजना के कार्यक्रम में सुधीर शर्मा ने धर्मशाला हलके की जनता से आह्वान किया कि वह उनके तीनों कार्यालयों में अपनी समस्याओं को रखें। हिमाचल में अपने विधानसभा क्षेत्र की जनता के लिए तीन विधायक खोलने वाले एकमात्र एमएलए सुधीर शर्मा ने कहा कि ये आफिस आमजन की सुविधा के लिए  खोले गए हैं। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव व धर्मशाला से विधायक सुधीर  शर्मा आगे कहा कि इन लाभार्थियों के दस्तावेज समय पर पूरा करके तमाम प्रक्रिया को पूरा करके समय पर यह राशि दी जा रही है। योजनाओं

का सही मायने में लाभ तभी होता है, जब पात्रों को समय पर यह राशि मिले। लायंस क्लब में हुए कार्यक्रम में सुधीर शर्मा ने बेटी है अनमोल, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना, मुख्यमंत्री शगुन योजना, विधवा विवाह के लाभार्थियों को  ये चेक व फिक्स डिपोजिट के रूप में सहायता राशि। कार्यक्रम में शगुन योजना  के तहत  64 लाभर्थीयों को 1984000 रुपए 31000  प्रति लाभार्थी दिए गए। इसी तरह  मुख्यमंत्री कन्या दान योजना में 14 लाभार्थीयों में 51000 प्रति लाभार्थी की दर से  714000 रुपए के चेक बांटे गए। इसके अतिरिक्त बेटी है अनमोल योजना के अंतर्गत भी 21 लाभार्थीयों को 410000 रुपए की 21000 रुपए प्रति लाभार्थी की दर से दिए गए।   उन्होंने कहा कि कांगड़ा जिला में कुपोषित बच्चों के लिए मिशन भरपूर अभियान भी आरंभ किया गया है तथा इस अभियान के तहत जिला में 940 के करीब कुपोषित बच्चों को हर दिन पौष्टिक तत्वों से युक्त चाकलेट बॉर उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि धर्मशाला ब्लॉक की 162 आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से इस अभियान को चलाया जा रहा है ताकि कुपोषित बच्चों का स्वास्थ्य बेहतर हो सके।

   पर्यटकों को बेहतर सुविधाएं देना प्राथमिकता

सुधीर शर्मा ने कहा कि धर्मशाला में पर्यटकों को बेहतर सुविधाएं देना उनकी प्राथमिकताओं में है। उन्होंने कहा कि धर्मशाला शिक्षा, खेल और इवेंट कैपिटल के रूप में पहचान बना चुका है। यह सबके सामूहिक प्रयासों से हुआ है। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी, नगर निगम के कार्यों की लगातार मानीटरिंग की जा रही है।

बजट की कमी कभी नहीं आने दी
सुधीर शर्मा ने कहा कि उन्हें पता है कि विकास के लिए बजट का कैसे इंतजाम करना है। धर्मशाला में पंचायतों से लेकर शहर तक एकसमान काम चल रहे हैं। पंचायतों केा लगातार विकास कार्यों के लिए राशि दी जा रही है।