762 स्कूलों में सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी की बेहतर सुविधाएं: बुटेलराज्य के प्रत्येक सीनियर सेकेंडरी स्कूल में स्थापित की जाएगी लाइब्रेरी

पालमपुर 24 जनवरी। शिक्षा में सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी के उपयोग और गुणवत्ता सुधारने के लिए राज्य के 762 स्कूलों में आवश्यक हार्डवेयर तथा साफ्टवेयर उपलब्ध करवाया जाएगा ताकि विद्यार्थियों को बेहतर सुविधा मिल सके। यह उद्गार मुख्य संसदीय सचिव आशीष बुटेल ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला राख के वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह में बतौर मुख्यातिथि अपने संबोधन में व्यक्त किए।
उन्होंने कहा कि प्रत्येक सीनियर सेकेंडरी स्कूल में लाइब्रेरी रूमस स्थापित किए जाएंगे इसके साथ ही दस हजार मेधावी छात्रों को टेबलेट्स भी वितरित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का मुख्य ध्येय वर्तमान शैक्षणिक संस्थानों के आधारभूत संरचना को सुदृढ़ करना है जिससे विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान की जा सके।


उन्होंने छात्रों से विद्यार्थी जीवन का आनन्द लेने के साथ-साथ जीवन में निर्धारित लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए परिश्रम करने का आह्वान भी किया। उन्होंने कहा कि पहली से आठवीं तक के छात्र-छात्राओं को स्कूल वर्दी के लिए 600 रूपये प्रति विद्यार्थी प्रदान की जा रही है इससे लगभग 5 लाख 25 हजार विद्यार्थी लाभांवित होंगे। उन्होंने कहा कि विद्यालयों में आधारभूत संरचना सृदृढ़ करने के लिए भी कारगर कदम उठाए जा रहे हैं। ताकि बच्चों को बेहतर शैक्षणिक वातावरण मिल सके। उन्होंने विद्यालय के बेहतर परीक्षा परिणाम के लिए भी स्कूल के अध्यापकों के प्रयासों की सराहना की।
इस अवसर पर मुख्यातिथि ने मेधावी बच्चों को सम्मानित भी किया तथा बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। मुख्यातिथि ने स्कूल मैदान के लिए 2 लाख रूपये तथा सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए 21 हजार की राशि स्वीकृत की जबकि स्कूल भवन के निर्माण के लिए प्राकल्लन तैयार करने के निर्देश दिए गए। उन्होंने कहा कि राख-भौंड-अरड़ी की सड़क निर्माण के लिए डीपीआर तैयार हो चुकी है।
इससे पहले स्कूल के प्रधानाचार्य सुरेंद्र कपूर ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए स्कूल की वार्षिक गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की गई। इस अवसर पर ब्लाक अध्यक्ष त्रिलोक, राख पंचायत प्रधान अनुदेवी, उपप्रधान ओम प्रकाश, उपप्रधान विजय कुमार, आत्मा प्रोजेक्ट से रोशन लाल चैधरी सहित विभिन्न जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।